शेयर मार्केट क्या है

शेयर मार्केट क्या है? शेयर मार्केट में पैसे लगाने की पूरी जानकारी

    दोस्तों आज बात करेंगे शेयर मार्केट और स्टॉक मार्केट क्या है? आईपीओ क्या है? डीमैट अकाउंट क्या है? सेबी क्या है?  और सेंसेक्स निफ्टी क्या होता है?
     यदि आपकी कोई कंपनी है, और आपको उसे बढ़ाना है तो जाहिर सी बात है, कि उसके लिए पैसे की आवश्यकता पड़ेगी  अब यदि आप बैंक से लोन लेते हैं, तो आपको इंटरेस्ट देना पड़ेगा लेकिन यदि आप अपनी कंपनी को शेयर मार्केट में लगाते हो तो आपको कोई इंटरेस्ट नहीं देना पड़ेगा।

आईपीओ

    जब भी कोई कंपनी पहली बार शेयर मार्केट में लगती है तो उसको बोला जाता है, आईपीओ (initial public offering),   मान लो यदि आपको ₹40लाख की जरूरत है,  तो आप 4000 शेयर लिस्ट करोगे एक-एक हजार के  हिसाब से  लोग आपके शेयर खरीदेंगे और आपको  ₹40लाख मिल जाएंगे जो कि आप अपने बिजनेस में लगा सकते हो।
     इसके लिए आपको जाना पड़ेगा सबसे पहले सेबी (Securities and Exchange Board of India) के पास  जो कि सभी कंपनियों की निगरानी करती है, आपको Red Herring Prospectus (RHP) नाम का डॉक्यूमेंट सेवी को सबमिट करना होगा उसके बाद सेबी उसको वेरीफाई करेगी उसके बाद तय करेगी की आपकी कंपनी को अप्रूवल देना है कि नहीं।
    यदि आपको अप्रूवल मिल जाता है तब आपको जाना पड़ेगा स्टॉक एक्सचेंज में,  स्टॉक एक्सचेंज एक इंटरमीडिएट होता है जो कंपनी और पब्लिक को जोड़ता है भारत में दो स्टॉक एक्सचेंज हैं बीएसई(Bombay Stock Exchange) और एनएसई(National Stock Exchange).

 सेंसेक्स और निफ्टी

     सेंसेक्स को देखकर आप यह पता लगा सकते हैं  की बीएई का मार्केट आज अप है या डाउन है कल के अपेक्षा, बीएसई में 30 कंपनियों के शेयर का औसत निकाला जाता है जिसको हम सेंसेक्स कहते हैं।
 इसी प्रकार NSE में निफ़्टी होता है, जो नेशनल प्लस 50 से मिलकर बना है, एनएसई में 50 कंपनियों के शेयर का औसत निकाला जाता है जिसको हम निफ़्टी कहते हैं।
    किसी भी कंपनी के शेयर की कीमत उसकी डिमांड और सप्लाई रुल पर आधारित रहते हैं,  यदि डिमांड ज्यादा है तो शेयर की कीमत बढ़ जाएगी और यदि सप्लाई ज्यादा है, कोई खरीद नहीं रहा है शेयर को, तो उस कंपनी के शेयर की कीमत कम हो जाएगी,  कंपनी यदि फायदे में जाती है तो शेयर की कीमत बढ़ जाती है और यदि कंपनी घाटे में जाती है तब शेयर की  कीमत कम हो जाती है,  ऐसे में शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करना जोखिम भरा हो सकता है, इसका एक अल्टरनेटिव है कि आप  पैसे को म्यूचुअल फंड में लगा सकते हैं।

 डीमैट अकाउंट क्या है और शेयर मार्केट में पैसे लगाने की पूरी जानकारी

     शेयर मार्केट में शेयर खरीदने या फिर बेचने के लिए जरूरी होता है सेविंग अकाउंट उसके बाद जरूरी होता है डिमैट अकाउंट और  ट्रेडिंग अकाउंट।
     जब भी आप कोई शेयर खरीदते हो या फिर  बेचते हो तो वह डिमैट अकाउंट में डिजिटल फोरमेट में सेव हो जाता है
 जिससे यह प्रूफ होता है कि उस कंपनी में आपके शेयर हैं ।
    ट्रेडिंग अकाउंट में ट्रेडिंग होगी आपकी स्टॉक एक्सचेंज में, स्टॉक एक्सचेंज में बेचने के लिए आपको ट्रेड करना पड़ेगा, इसलिए आपको तीनों अकाउंट को लिंक करना पड़ेगा।
     जब भी आप कोई शेयर खरीदोगे तो आपके सेविंग अकाउंट से पैसे निकल कर ट्रेडिंग के द्वारा आपके डीमैट अकाउंट में डिजिटल फोरमेट में वह शेयर दिखाई देने लगेंगे, और जब आप शेयर को बेचोगे तो ट्रेडिंग अकाउंट से आपकी सेविंग अकाउंट में पैसे आ जाएंगे और डिमैट अकाउंट में शेयर कम हो जाएंगे।

म्यूचुअल फंड क्या है

म्यूचुअल फंड क्या है? क्या म्यूचुअल फंड सही है?

    म्यूचुअल फंड क्या है? क्या म्यूचुअल फंड सही है? इसमें पैसे लगाने के फायदे  क्या है? इसमें कैसे

0 comments
शेयर मार्केट क्या है

शेयर मार्केट क्या है? शेयर मार्केट में पैसे लगाने की पूरी जानकारी

    दोस्तों आज बात करेंगे शेयर मार्केट और स्टॉक मार्केट क्या है? आईपीओ क्या है? डीमैट अकाउंट क्या है?

0 comments
CAPTCHA code KYA HAI

captcha code kya hai, Completely Automated Public…

    दोस्तों जब भी हम कभी गूगल पर या फिर किसी वेबसाइट पर अकाउंट बनाते हैं या कोई वेबसाइट

0 comments
vpn के फायदे

vpn के फायदे क्या-क्या हैं, What is VPN in Hindi

दोस्तों आज इस पोस्ट में बात करेंगे की VPN क्या होता है, Vpn काम क्या करता है और vpn के

0 comments
MRP ₹99 तो इसलिए रखते है ₹99 ₹399 ₹999

क्यों रखते है MRP ₹99, ₹399, ₹999??

Why Prices End with 99?…why prices are in nine 99 rupee?…Price set 1 rupee less? दोस्तों आपने देखा होगा ज्यादातर

0 comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *